ग्राम प्रधान व लेखपाल पर ग्रामीणों ने लगाए भृष्टाचार के आरोप**----अफसरों द्वारा कार्रवाई न होने पर खटखटाया सीएम की चौखट*



*रवीन्द्र त्रिपाठी इंकलाब न्यूज*

फतेहपुर,14 ,सितम्बर। बहुआ विकास खंड की ग्राम सभा सामियाना में प्रधान, पंचायत अधिकारी तथा लेखपाल ने मिलकर सरकारी जमीनों को बेचने के साथ ही अपात्रों को शौचालय व आवास भी आवंटित कर दिए है। इतना ही नहीं जो पात्र थे उनको इस व्यवस्था से वंचित किया गया और पात्रों को सौगात दी गई। मानव अधिकार संगठन के जिला महासचिव रमेश सिंह कछवाह द्वारा मुख्यमंत्री को पुनः भेजे गए शिकायती पत्र में उपरोक्त संदर्भों का  विस्तार से उल्लेख किया गया है। बताया गया है कि पूर्व में भी उनके द्वारा मुख्य विकास अधिकारी व खण्ड विकास अधिकारी बहुआ से मिलकर इस संदर्भ में शिकायत की गई लेकिन कोई कार्यवाही नहीं की गई।इसके अतिरिक्त विगत 9 अगस्त को उन्होंने शासन स्तर पर भी इसकी शिकायत की लेकिन किसी प्रकार का संज्ञान नहीं लिया गया। श्री कछवाह ने ग्राम सभा सामियाना में हुए व्यापक गोलमाल की जिलाधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी एवं खंड विकास अधिकारी से भी शिकायत की लेकिन किसी भी सक्षम अधिकारी ने कोई कार्यवाही करना उचित नहीं समझा गया। उन्होंने चेतावनी दी है कि अगर ग्राम प्रधान समेत सभी संबंधित कर्मचारियों के खिलाफ कार्यवाही नहीं की गई तो वे आमरण अनशन के लिए बाध्य होंगे, जिसकी संपूर्ण जिम्मेदारी प्रशासन की होगी।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां