आज का राशिफ़ल

पूजा-अर्चना के साथ देव शिल्पी भगवान विश्वकर्मा की मनाई गई जयंती*




*रवीन्द्र त्रिपाठी इंकलाब न्यूज*

 फतेहपुर,17सितम्बर।देव शिल्पी भगवान विश्वकर्मा जयंती बिन्दकी  नगर सहित पूरे  क्षेत्र में परम्परागत ढंग से पूजा-अर्चना के साथ धूमधाम  से मनाई गई।  कोरोना वायरस संक्रमण के चलते कार्यक्रमों में ज्यादा लोग इसमें सहभागिता नहीं कर पाए।  
बिन्दकी नगर के मोहल्ला पुरानी बिन्दकी  स्थित जूनियर विद्यालय में आयोजित कार्यक्रम के मुख्य अतिथि  भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष मधुराज विश्वकर्मा ने कहा कि भगवान विश्वकर्मा ने ब्रम्हाण्ड के एक मात्र अद्वतीय देवशिल्पी थे। भगवान विश्वकर्मा ने ब्रम्हाण्ड की रचना में ब्रह्मा जी के साथ सहभागिता की थी।
         उन्होंने कहा कि भगवान विश्वकर्मा जैसा बड़ा शिल्पकार आज तक नहीं हुआ है न होगा।उनके इस जयंती पर हम उनको शत-शत नमन करते हैं और उनके व्यक्तित्व और कृतित्व से प्रेरणा लेते हुए उनके बताए हुए रास्ते पर चलने की प्रतिज्ञा भी करते हैं। इस मौके पर विश्वकर्मा समाज के प्रमुख तथा समाजसेवी सूरज बली विश्वकर्मा ने कहा कि हम सभी लोगों को भगवान विश्वकर्मा के बताए हुए रास्ते में चलने की जरूरत है‌
 इस मौके पर रितिक विश्वकर्मा, हरिप्रसाद शर्मा ,डॉ आदित्य शर्मा, अमन विश्वकर्मा ,प्रदीप विश्वकर्मा, जीतू विश्वकर्मा, आशीष विश्वकर्मा आदि मौजूद रहे।
 नगर के ललौली रोड में मनोज इंजीनियरिंग वर्क्स में भी भगवान विश्वकर्मा की जयंती मनाई गई। चित्र पर पुष्प अर्पित कर उनके व्यक्तित्व और कृतित्व पर चर्चा  की गई ।
इस मौके पर मनोज विश्वकर्मा, कैलाश शर्मा, डॉ अशोक  विश्वकर्मा सहित अनेक लोग मौजूद रहे।आज  नगर के लगभग सभी कारखानों तथा उद्योगों में भगवान विश्वकर्मा की जयंती मनाई गई।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां