डिप्टी डायरेक्टर ने एडीओ पंचायत को लगाई फटकार। -- सफाई कर्मचारियों द्वारा पैसे न देने पर एडीओ पंचायत ने कराया था स्थानांतरण


हरदासपुर में शौचालयोंं का निरीक्षण (ऊपर) ग्रामीणों से जानकारी लेते डिप्टी डायरेक्टर पंचायत राज उ.प्र. जयदीप त्रिपाठी।


फतेहपुर 3 दिसंबर। डिप्टी डायरेक्टर पंचायती राज ने आज हरदासपुर गांव आकर  देवमई ब्लॉक के ओडीएफ शौचालयों का निरीक्षण तथा  सफाई कर्मियों के गलत तरीके से किए गए स्थानांतरण और सहायक विकास अधिकारी पंचायत ब्लाक देवमई पर उगाही के आरोपों की आम लोगो की मौजूदगी मेंंजांच  किया।  ग्रामीणों तथा प्राइमरी विद्यालय के प्रधानाध्यापक से पूछताछ की। उन्होंने गांव में बने शौचालयों को भी देखा।
 प्राप्त जानकारी के अनुसार आज मंगलवार को डिप्टी डायरेक्टर पंचायती राज  उत्तर प्रदेश जयदीप त्रिपाठी ने स्वच्छता कर्मियों के गलत तरीके से किए गए स्थानांतरण की मौके पर आकर जांच की ।
जांच के दौरान सहायक विकास अधिकारी पंचायत मान सिंह भी मौजूद थे। एडीओ पंचायत की मौजूदगी में स्वच्छता कर्मियों ने आरोप लगाया कि सहायक विकास अधिकारी पंचायत सफाई कर्मियों से उगाही करते हैं  और न देने पर उनके विरुद्ध तरह तरह के षड़ यंत्र करके कार्रवाई करते हैं । इसी के तहत स्वच्छता कर्मी उपेंद्र पाल ,रामनारायण व जगत का स्थानांतरण करा दिया था। जिसको लेकर सफाई कर्मियों व हरदासपुर निवासी विजय कांत मिश्र ने उच्चाधिकारियों से शिकायत की थी । उन्हीं शिकायतों के आधार पर आज डिप्टी डायरेक्टर पंचायती राज जयदीप त्रिपाठी जांच के लिए यहां आए ।
श्री त्रिपाठी ने हरदासपुर गांव के प्राइमरी स्कूल के प्रधानाध्यापक  सर्वेश कुमार से सफाई कर्मी द्वारा किए जा रहे कार्यों के संबंध में पूछा तो प्रधानाध्यापक बताया कि सफाई कर्मी प्रतिदिन आकरके सफाई करता है।
इसी तरह उन्होंने ग्रामीणों से भी पूछताछ की, तो उन्होंने बताया कि सफाई कर्मी का कार्य संतोषजनक है ,और प्रतिदिन वह यहां आता और सफाई करता है।
 सफाई कर्मी रामनारायण ने डिप्टी डायरेक्टर श्री त्रिपाठी को बताया कि सहायक विकास अधिकारी पंचायत मानसिंह ने उनसे ₹5000 लिए थे ,और प्रतिमाह भी वेतन बनाने के नाम पर उगाही करते थे ।जब उसने इसका विरोध किया तो उन्होंने गलत तरीके से आरोप लगाकर स्थानांतरण करा दिया ।ऐसा ही कुछ हरदासपुर के सफाईकर्मी उपेंद्र पाल  ने भी सहायक विकास अधिकारी पंचायत पर उगाही के आरोप लगाए।
 ग्रामीणों से पूछताछ के बाद डिप्टी डायरेक्टर श्री त्रिपाठी ने कहा कि अब इन सफाई कर्मचारियों का स्थानांतरण नहीं होगा। जबकि एडीओ पंचायत मानसिंह ने अपने ऊपर लगाए गए आरोपों को गलत बताया।हालांकि  स्वच्छता कर्मियों द्वारा उनके ऊपर लगाए गए आरोपों का सही तरीके एडीओ पंचायत जवाब नहीं दे पाए।
  इस मौके पर डिप्टी डायरेक्टर जयदीप त्रिपाठी ने हरदासपुर गांव के विजयकांत मिश्र का आवास भी देखा। जिन्होंने आरोप लगाया था कि अपात्रों को आवास दिए गए हैं, किंतु पात्र होते हुए भी उन्हें आवास नहीं दिया गया ।इस पर उन्होंने पंचायत सचिव रक्षा पांडे से सूची दिखाने को कहा ।रक्षा पांडे ने जो सूची डिप्टी डायरेक्टर को दिखाई। उस लिस्ट के 37 वें नंबर पर पूनम पत्नी विजयकांत को सूची में शामिल किया गया था। इस पर उन्होंने विजयकांत से कहा कि सूची में उनका नाम है ,और उन्हें शत प्रतिशत आवास मिलेगा। डिप्टी डायरेक्टर त्रिपाठी हरदासपुर गांव में बने शौचालयों का भी निरीक्षण किया ,और अपना संतोष जाहिर  किया।
 श्री त्रिपाठी ने बताया कि आज वह विकास खंड देवमयी के 74 ओडीएफ राजस्व गांव में से 6 गांव का निरीक्षण करेंगे और शौचालय की जांच करेंगे।
इस मौके पर ग्राम प्रधान  प्रहलाद सिंह ग्राम पंचायत अधिकारी शिवानी मिश्र तथा पूर्व प्रधान संतोष कुमार शुक्ला सहित अनेक ग्रामीण मौजूद रहे।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां