तीस हजारी कोर्ट में अधिवक्ताओं पर पुलिस लाठीचार्ज से खफा बिन्दकी के अधिवक्ताओं ने की निन्दा

फतेहपुर,5 नवम्बर।
दिल्ली के तीस हजारी न्यायालय में पुलिस द्वारा अधिवक्ताओं के ऊपर लाठीचार्ज करने की निंदा करते हुए तहसील के अधिवक्ताओं ने तहसील परिसर में घूमकर पुलिस के विरोध में जमकर नारेबाजी की और एसडीएम के न मिलने पर तहसीलदार न्यायिक को ज्ञापन दिया । ज्ञापन में .दोषी पुलिस कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई।
           बिंदकी तहसील के अधिवक्ताओं ने एक बैठक बुलाकर दिल्ली के तीस हजारी न्यायालय में पुलिस द्वारा अधिवक्ताओं के ऊपर की गई लाठीचार्ज की निंदा किया और कहा कि ऐसे पुलिस कर्मचारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए इसके बाद सभी अधिवक्ता तहसील परिसर के अंदर तहसील रोड में नारेबाजी करते हुए घूमे  । पुलिस के विरोध में जमकर नारेबाजी की और.पूरे दिन काम से विरत रहे।
इसके बाद सभी अधिवक्ता एसडीएम कार्यालय के सामने पहुंचे लेकिन मौके पर एसडीएम के ना मिलने पर तहसीलदार न्यायिक को राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन दिया।
अधिवक्ताओं का कहना है  कि पुलिस द्वारा अधिवक्ताओं के ऊपर बर्बरता पूर्वक लाठीचार्ज की हम सभी निंदा करते हैं और यदि दोषी पुलिस कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई तो वह लोग बेमियादी धरना प्रदर्शन करने के लिए बाध्य होंगे ।
 इस मौके पर अधिवक्ता संघ के तहसील अध्यक्ष ज्ञानेंद्र सिंह गौतम ,महा मंत्री सूर्यपाल सिंह यादव ,अशोक उत्तम ,खेम चंद्र अरुण द्विवेदी ,रफीक कमलेश कुमार ,रामविलास ,बृजेश कुमार सहित तमाम अधिवक्ता मौजूद रहे

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां